Business Idea: 1 लाख रुपये में शुरू करें यह खेती, घर बैठे हर महीने 8 लाख रुपये की करें कमाई

 Business Idea: अगर आपके पास ज्यादा पैसे नहीं हैं तो आप सरकारी मदद से इस बिजनेस को शुरू कर सकते हैं

अगर आपके पास ज्यादा पैसे नहीं हैं तो आप सरकारी मदद से इस बिजनेस को शुरू कर सकते हैं

Business Idea: अगर आप कम पैसो का निवेश कर अच्छा पैसा कमाना चाहते हैं, तो आज हम आपको एक बिजनेस करने का आइडिया देने जा रहे हैं जिसे शुरू कर आप कुछ ही महीनों में लाखों रूपया कमा सकते हैं। दरअसल, जिस बिजनेस आइडिया (Business Idea) की बात कर रहे हैं वो है खीरे की खेती (Cucumber cultivation) का बिजनेस। यह एक ऐसा बिजनेस है जिसमे लागत भी कम लगती है और कम समय में मोटी कमाई की जा सकती है।


इसकी खासियत यह है कि इसे किसी भी तरह की मिट्टी में उगाया जा सकता है। यानी इसे आप बलुई मिट्टी, चिकनी मिट्टी, दोमट मिट्टी, काली मिट्टी, सिल्ट मिट्टी कहीं भी इसकी खेती कर सकते हैं। ऐसे में आप अपने गांव से लेकर शहर में कहीं भी इसकी खेती कर सकते हैं। इन दिनों खीरे की अच्छी डिमांड है। खीरा के बिना तो सलाद भी अधूरा ही रहता है। यह स्वास्थ्य के लिए भी फायदेमंद रहता है।

हर महीने होगी लाखों रुपये की कमाई


खीरे की फसल 60 से 80 दिनों में तैयार हो जाती है। खीरे का मौसम तो गर्मी में माना गया है। लेकिन बारिश के समय भी इसकी अच्छी खेती हो जाती है। और बाजार में लाकर बंपर कमाई भी की जा सकती है। खीरा की खेती के लिए जमीन का PH 5.5 से 6.8 तक अच्छा माना गया है। इसे नदियों और तालाबों के किनारे भी उगाया जा सकता है।


सरकार से भी सब्सिडी लेकर शुरू कर सकते हैं खेती


मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, उत्तर प्रदेश के एक किसान ने खीरे की खेती का कारोबार शुरू किया। उन्होंने सिर्फ 4 महीने में 8 लाख रुपये की कमाई की। खीरे की खेती के लिए उन्होंने नीदरलैंड के खीरे की बुवाई की थी। इन खीरों की खासियत यह है कि इसमें बीज नहीं होते। लिहाजा इन खीरों की मांग बड़े रेस्टोरेंट और होटलों में अधिक रही। किसान ने इस खीरे की खेती शुरू करने के लिए सरकार से 18 लाख रुपये की सब्सिडी ली, और खेत में ही सेडनेट हाउस बनवाया था।


बता दें कि अगर देसी खीरे का भाव 20 रुपये/किलो है, तो नीदरलैंड के बिना बीज वाला ये खीरा 40 से 45 रुपये/किलो के भाव से बिकता है। मार्केटिंग के लिए सोशल मीडिया का सहारा भी लिया जा सकता है। सभी तरह के खीरों की मांग सालभर रहती है, क्योंकि सलाद के तौर पर खीरे का इस्तेमाल खूब होता है।


0 Comments