ये 6 Schemes आपको बना सकती हैं मालामाल, बचत के लिहाज से है परफेक्ट

 

अगर आप छोटी बचत से बड़ी रकम जोड़ना चाहते हैं तो सरकार की ये 6 योजनाएं आपके लिए फायदेमंद साबित हो सकती हैं. इन्हें आप अपनी जरूरत के अनुसार ले सकते हैं. इनमें जोखिम का भी डर नहीं है.


ये 5 Schemes आपको बना सकती हैं मालामाल, बचत के लिहाज से है परफेक्ट

बचत स्कीम

मुश्किल घड़ी में किसी तरह की परेशानी न हो इसलिए बैंक-बैलेंस का अच्छा होना बेहद जरूरी है. इसलिए बचत की आदत शुरू से ही अपना ली जाए तो बेहतर होती है. मगर समस्या आती है कि आखिर किस स्कीम में पैसा इंवेस्ट किया जाए, क्योंकि इन दिनों मार्केट में कई तरह की योजनाएं उपलब्ध है. ऐसे में हम आपको कुछ ऐसी स्कीम्स के बारे में बताएंगे जिनमें आप छोटे अमाउंट से निवेश कर सकते हैं और ज्यादा मुनाफा पा सकते हैं.

सुरक्षा के लिहाज से भी ये स्कीम्स भरोसेमंद हैं क्योंकि ये योजनाएं सरकार की ओर से संचालित की जा रही है. इनमें जोखिम का डर ना के बराबर है. अच्छी बात यह है कि आप इन योजनाओं को अपनी अलग-अलग जरूरतों के अनुसार ले सकते हैं. जैसे- बेटी की शादी, बच्चों की पढ़ाई, घर आदि के लिए.

सुकन्या समृद्धि योजना

पोस्ट ऑफिस की सुकन्या समृद्धि योजना बेहद प्रचलित स्कीम है. ज्यादातर लोग अपनी बेटी की शादी के लिए इस स्कीम में निवेश करते हैं. आप चाहे तो उसकी शिक्षा के लिए भी इसका इस्तेमाल कर सकते हैं. इसकी मेच्योरिटी अवधि 21 साल है, मगर निवेश महज 14 साल के लिए ही करना होता है. प्रतिवर्ष न्यूनतम 250 रुपए की राशि जमा करनी होती है. जबकि इसकी अधिकतम सीमा 1.5 लाख रुपए है. इसमें अभी करीब 7.6 प्रतिशत ब्याज दिया जा रहा है. इसमें आप बेटी के 18 साल के होने पर कुल जमा राशि में से 50 % निकल सकते है. जबकि पूरी धनराशि 21 साल की उम्र में निकाल सकते हैं.

नेशनल पेंशन सिस्टम

PFRDA की ओर से संचालित इस स्कीम में मंथली ​इनकम के साथ 60 साल की उम्र में एकमुश्त रकम मिलती है. इसमें 18 से 65 साल के बीच की उम्र के लोग निवेश कर सकते हैं. NPS में दो तरह के अकाउंट होते हैं. पहला Tier-I और दूसरा Tier-II. Tier-I एक रिटायरमेंट अकाउंट होता है, जिसे हर सरकारी कर्मचारी के लिए खुलवाना अनिवार्य है. वहीं Tier-II एक वॉलेंटरी अकाउंट होता है, जिसमें कोई भी वेतनभोगी अपनी तरफ से इन्वेस्टमेंट शुरू कर सकता है और कभी भी पैसे निकाल सकता है.

पब्लिक प्रोविडेंट फंड

पीपीएफ छोटी बचत वालों के लिए एक बेहतर स्कीम है. इससे आप बड़ी धनराशि जोड़ सकते हैं. इसकी मैच्योरिटी अवधि 15 वर्ष है. हालांकि इसे 5-5 साल के लिए आगे बढ़ाया जा सकता है. इसमें डेढ़ लाख रुपए तक के निवेश पर टैक्स नहीं लगता है. इसमें अभी 7.1 फीसदी सालाना ब्याज दिया जा रहा है. पीपीएफ खाता आप किसी भी सरकारी बैंक या पोस्ट ऑफिस में खुलवा सकते हैं.

सीनियर सिटीजन सेविंग स्कीम

वरिष्ठ नागरिकों के लिए पोस्ट ऑफिस की सीनियर सिटीजन सेविंग स्कीम (Senior Citizen Savings Scheme-SCSS) एक बेहतर विकल्प है. ये स्कीम 5 साल के लिए है. इसमें आप 15 लाख रुपए तक अधिकत निवेश कर सकते हैं. मैच्योरिटी के बाद इस स्कीम को 3 साल के लिए बढ़ाया जा सकता है. खाता खुलवाने के लिए न्यूनतम जमा रकम 1,000 रुपए होनी चाहिए.

नेशनल सेविंग्स सर्टिफिकेट

डाकखाने की एक और स्कीम काफी पॉपुलर जिसमे निवेश पर लाखों का फायदा हो सकता है. इसका नाम है नेशनल सेविंग्स सर्टिफिकेट NSC. इसमें आप 100 रुपए से भी खाता खोल सकते हैं. इसकी मैच्योरिटी अवधि 5 साल की है, लेकिन आप इसे पांच-पांच साल के लिए 5 बार आगे बढ़ा सकते हैं. इस योजना के तहत आप 100, 500, 1000, 5000 और 10 हजार रुपए से निवेश कर सकते हैं इसमें अधिकतम सीमा नहीं है.

भारत पे इंटरेस्ट अकाउंट

भारत पे इंटरेस्ट अकाउंट को हिंदी में ब्याज खाता बोलते है, इंटरेस्ट अकाउंट एक हमारा सेविंग अकाउंट जैसा रहता है अगर हम हमारे बचत के पैसे को भारत पे इंटरेस्ट अकाउंट में डिपॉजिट करके रखते हैं तो हमको अन्य बैंकों की तुलना में भारत पे 3 गुना अधिक ब्याज यानी 12% ब्याज हमको देता है ।

इंटरेस्ट अकाउंट के पैसों को हम कभी भी अपने अकाउंट में ट्रांसफर कर सकते हैं जो हमको ब्याज सहित मिलते हैं पैसा हमारे बैंक में ट्रांसफर होने में 1 से 24 घंटा लगता है.

0 Comments